Gaganyaan Mission 2022 in hindi

गगनयान मिशन इन हिंदी – Gaganyaan Mission 2022 in Hindi

Gaganyaan Mission 2022 in hindi
Gaganyaan Mission 2022 in hindi

हेलो दोस्तों –

मेरे वेबसाइट पर आपका स्वागत है ! दोस्तों आज हम बात करने जा रहे है, Chandrayaan – 2 के बाद Gaganyaan mission की जिसे इंडिया की स्पेस कंपनी इसरो ( ISRO )2022 में गगनयान मिशन को अंतरिक्ष में भेजेगा ! जिसमे लगभग 2 से 3 आदमी स्पेस में जा सकेंगे।

इस प्रोजेक्ट की तैयारी 2018 से की जा रही है ! और 2022 तक बनकर तैयार हो जायेगा। चलिए आज के इस आर्टिकल में हम गगनयान मिशन क्या है, और यह कब लंच होगा, और इसकी खसियत क्या है सब कुछ विस्तार से जानेगे इस आर्टिकल में हम.

गगनयान मिशन क्या है – gaganyaan mission 2022 in hindi

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) द्वारा 2022 तक किसी भी भारतीय द्वारा को गगनयान अंतरिक्ष तक ले जाने का लक्ष्य बना है ! अब तक विश्व में सिर्फ तीन ही देश ऐसा काम कर पाए है ! सबसे पहले रूस ने वर्ष 1962 में यह उपलब्धि प्राप्त की थी. उसके बाद अमेरिका और चीन ने यह महान काम करके इतिहास को दोहराया था।

साल 2022 तक भारत भी उन देशों में शामिल हो जाएगा ! जो अंतरिक्ष में मानव भेजने में संभव हुए है ! भारत स्वयं की तकनीको से बनाए गए गगनयान ( Gaganyan ) द्वारा किसी भारतीय को अंतरिक्ष में 7 दिन तक रखेगा।

गगनयान मिशन की शुरुआत हिंदी में – gaganyaan mission starting in hindi

15 अगस्त 2018 को देश के 72वें स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी नें लाल किले की प्राचीर से गगनयान मिशन के 2022 तक या उससे पहले पूरा कर लिए जाने का औपचारिक एलान किया !

यह मिशन भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन ( ISRO) द्वारा विकसित किया जायेगा ! इसके अंतर्गत 3 भारतीय व्योमनॉट्स ( अंतरिक्ष यात्रियों) को पृथ्वी से 350-400 किमी. दूर अंतरिक्ष की कक्षा में 7 दिनों के लिए भेजे जाने और फिर सकुशल वापस लौट आने की योजना है !

यह अंतरिक्षयान GSLV (जियो सिंक्रांमस सेटेलाइट लांच व्हीकल) मार्क- III के जरिये लांच किया जायेगा ! जिसका हाल ही में सफल परीक्षण किया जा चुका है ! ~!इससे पहले भारत अपने गगनयान मिशन के अंतर्गत ही 2 मानव रहित मिशन अंतरिक्ष में भेजेगा।

gaganyaan mission 2022 in hindi, gaganyaan mission, gaganyaan mission kya hai, gaganyaan mission in hindi, gaganyaan mission kab lunch hoga, isro gaganyaan mission, gaganyaan,

तीन सदस्यी दल को सात दिनों के लिए अंतरिक्ष में भेजा जाएगा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पिछले साल स्वतंत्रता दिवस पर दिए गए भाषण में मिशन गगनयान की घोषणा की थी ! इसके तहत तीन सदस्यीय चालक दल को सात दिनों के लिए अंतरिक्ष में भेजा जाएगा !

अंतरिक्ष यान को पृथ्वी की निचली कक्षा में रखा जाएगा ! गगनयान मिशन के हिस्से के रूप में दो मानवरहित व एक मानव सहित यान शामिल होंगे। चुने गए तीन अंतरिक्ष यात्रियों को इसी साल नवंबर में रूस भेजा जाएगा !

वहां यूरी गागरिन कॉस्मोनॉट ट्रेनिंग सेंटर में उन्हें मिशन गगनयान के लिए 15 महीने का प्रशिक्षण दिया जाएगा। रूस में कठिन प्रशिक्षण के बाद उन्हें भारत में भी छह से आठ महीने का प्रशिक्षण कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कैबिनेट की बैठक के बाद मीडिया से बातचीत में बताया कि इस योजना को मंजूरी मिलने के बाद अगले 40 महीने के अंदर लॉन्च कर दिया जाएगा !

रविशंकर ने कहा कि आज दुनिया ने अंतरिक्ष में भारत का लोहा माना है ! दुनिया के अन्य देश भी सेटेलाइट लॉन्च के लिए इसरो ISRO की मदद ले रहे है ! इस मिशन के 2022 तक पूरा होने की उम्मीद जताई गई है।

10 हजार करोड़ का बज़ट – 10 Thousand Crore Budget For Gaganyaan Mission in Hindi

मंगलयान और चंद्रयान जैसे सफल मिशन करने के बाद अब इसरो पहला मानव मिशन करने की तैयारी में है ! इस मिशन को गगनयान (Gaganyaan) नाम दिया गया है ! जिसकी घोषणा 15 अगस्त 2018 के प्रधानमंत्री मोदी जी ने की थी।

करीब 10 हजार करोड़ के इस मिशन से हर भारतीय को खुशी है,कि अब अपना देश भी स्पसे में लोगों को भेज सकता है ! Gaganyaan Mission वासत्व में गगन यानि आसामान को छूने वाला मिशन है। जो कि देश की दिशा को बदल कर रख सकता है।

[ 1 ] चंद्रयान – 2 मिशन क्या है. जाने हिंदी में [ 2 ] बुक समरी पढ़े अब हिंदी में

गगनयान मिशन के क्या फायदे है – Gaganyaan Mission Benefit in Hindi

दोस्तों, गगनयान मिशन में भले ही 10 हजार करोड़ रूपये हमारे लग रहे हों ! पर इस इंनवेस्टमेंट के भविष्य में हमारे लिए बहुत ही फायदे है !

स्पेस साइंस पर इनवेस्टमेंट करने पर हमारे देश के बच्चों की साईंस में बहुत इंटरेस्ट बढ़ेगा, जिससे हम आगे आने वाले समय में और ज्यादा रिसर्च कर पायेंगे ! और नई तकनीक भी खोज सकेंगे।

इस मिशन से ये भी देखा जा रहा है,कि जिस तरह NASA ने मानव मिशन करके अपने देश के लोगों में जो जगह बनाये है ! अगर Gaganyaan Mission सफल रहता है ! तो इसरो की भी हमारे दिल में एक अलग पहचान बन जायेगा।

ऐसा होने के बाद कई लोग इस क्षेत्र में जाना चाहेंगे ! इससे नौकरियों, स्टार्टअप और तमाम तरह की नई Technologies बनेंगी ! जो भविष्य में हमें उस स्थान पर ला देंगी ! जहां आज रूस औऱ अमेरिका है।

और भी बाते जाने गगनयान मिशन के बारे में –

[ 1 ] गगणयान मिशन के बारे में जाने डिटेल्स में [ 2 ] गगनयान मिशन में कौन – कौन से पार्ट्स है, तथा कौन गगनयान मिशन में जायेगा जाने विस्तार से [ 3 ] फ्यूचर कंप्यूटर क्या है

निवेदन – आपको गगनयान मिशन की जानकारी हिंदी में अच्छे तरह मिल गया होगा ! अगर आपको यह जानकरी अच्छा लगा हो तो इसे अपने फ्रेंड्स तथा सोशल मीडिया पर जरूर शेयर करे। और इसी तरह टेक्नोलॉजी से रिलेटेड जानकरी प्राप्त करने के लिए हमें subscribe करना न भूले !

अगर आपके पास कोई इनफार्मेशन हिंदी मे है. तो आप हमें शेयर कर सकते है ! आप हमारी website के लिए कुछ लिखना चाहते है ! तो आप लिख सकते है. paid तथा free दोनों में उपलब्ध है ! नीचे लिंक आपको मिल जायेगा।

लिंक

– – – – थैंक्स फॉर रीडिंग – – – –

लेखक – सतीश कुमार

You may also like...

Leave a Reply