Neuralink future computer

 Neuralink Future Computer (नेउरालिंक फ्यूचर कंप्यूटर क्या है)

Neuralink future computer

Neuralink future computer

हेलो दोस्तों

मेरे ब्लॉग पर आपका स्वागत है! आज हम एक ऐसे कंप्यूटर के बारे में बात करने जा रहे है! जिसका फ्यूचर में हमारे ऊपर कण्ट्रोल रहेगा या नही में बात कर रहा हु neuralinkc omputer कि इसके बारे में हम विस्तार से जानते है !

क्या आप जानते है। Neuralink computer क्या है। यह कैसा Future computer  है। जो हमारे दिमाक को कण्ट्रोल करेगा की हम अपने दिमाक को कण्ट्रोल कर पाएंगे इसकी मदद से आये जानते है।  न्यूरालिंक के बारे मे !

Neuralink computer

क्या हो अगर हम कंप्यूटर को अपने दिमाक से कनेक्ट कर सके कैसे हो mechine को अपने दिमाक से कंट्रोल कर सके दोस्तो future आ गया है दोस्तो इन चिजो के बरे मे हम लोगो से कहते ते लोग हमे पागल समझते लेकिन आज हम सोच रहे microchip को दिमाक मे लगाने की machine को अपने दिमाक से कन्ट्रोल करने तथा हम ऐसे गमे बनने की जो मानव के दिमाक के दवारा कन्ट्रोल किया जा सके।

दोस्तो 21शताब्दी शुरुवात हो चुकी है ! 21शताब्दी के महान interpreneur  Elon Musk Neuralink प्रोजेक्ट की शुरुवात की यह एक ऐसा प्रोजेक्ट जो मानव के दिमाक Microchip कनेक्ट करके Machine और रोबोट को कन्ट्रोल किया जा सके क्युकी आप जानते है। की आने वाले future मे machine तथा रोबोट का मानव जाति पर आधिकार होगा इसी को सोचते हुए Elon Musk NeuraLink प्रॉजेक्ट की शुरुवात की है।

Neuralink  Introduction ( नेरूरलिंक के बारे में )

Neuralink  Brain

Neuralink  Brain

21शताब्दी महान एलोन मुश्क इस बार space के गहरयो  मे जाने के बजाये मानव के दिमाक गहरयो जाना सोच है। Neuralink तथा Neura कंप्यूटर  का Use करके हम साइबोर बन सकते है। अगर आप साइबोर नही जानते है. तो आपको बता दू की मानव शरीर इसे इलेक्ट्रोड्स का use करके जो मानव शरीर का आधा हिस्सा मशीन का तथा आधा शरीर मानव जो मानव शरीर की Abilit बढ़ा देगा शरीर मे डाले जाने वाले इन छोटे मशीन को Neuralese कहते है।

ऐक्सपेक्ट के  माने तो neuralese पूरी दुनिया को बदल सकते है। musk का कहना है. की जिस तरह AI [आर्टिफीसियल इंटेलिजेंस ]का विकास हो रहा है। एक दिन ऐसा होगा earth के सबसे बुदिमान रोबोट मशीन होगे ऐसी समय मे मानव के ऊपर कतरा मडरा रहा होगा ऐसे समय से निपटना हो तो मानव का मशीन के ऊपर कन्ट्रोल होना बहुत जरूरी है इसीलिए Elon Musk Neuralink बना रहे है !

How to work Neuralink ( नेउरालिंक कैसे काम करेंगे )

Neuralink  robot

Neuralink  robot  

जैसे की आप जानते है. कि मनुष्य का ब्रेन सबसे पहले Input लेता है। फिर उसके बाद prosses करता है।  और Output देता है ! जिसके कारण Input तथा Output के बीच ज्यादा Time लगता है। लेकिन आप जानते है। मनुष्य का ब्रेन और eyes किसी भी वस्तु या चीजों को जल्दी कैप्चर करता है। लेकिन उसे prosses करके output देने में ज्यादा time लगता है।

लेकिन आजकल के machine तथा robot में ऐसा नही वह किसी भी चीज को जल्दी से कैप्चर करते है। और output जल्दी देते है। अगर हम इलेक्ट्रोड्स माइक्रोचिप तथा  बिओटिक उपयोग करके मानव दिमाक से कनेक्ट कर दे तो मानव का दिमाक तेजी के साथ प्रोसेस करेगा इसकी abilit बढ जायेगी !

Neuralink एक माइक्रोचिप की तरह होगा जो कोई भी इंसान इसे गर्दन के साइट मे इसे लगवा सकता है। पिछले साल एक सर्वे के अनुसार पता चला की चाइना और अमेरीका ने इसका उपयोग किया 4.4 to 5.5 बिट तक किया गया तथा जिसक उपयोग कंप्यूटर पर टाइपिंग की गई थी। जिसे जांच गया था। जिससे पता चला की मानव का दिमाक पहले के कम्पेयर काफी फ़ास्ट work कर रहा था। जो दिमाक मे जो सोच जा रहा था। वह सब कंप्यूटर टाइपिंग हो रहा था !

आने वाले 3  से 5  साल तक यह चिप market मे आने लगेगा जो इंसान दिमाक से पीड़िता है. वह से use कर सकेगे !

इस chip का उपयोग करने से पहले हमें एक दिक्क्त का सामना करना पड़ेगा कि कोई व्यक्ति इसका गलत उपयोग ना करे। इसीलिए कम्पनी कही है। की हम अभी इसका research कर रहे है।

Elon Musk Company Neuralink         

 एलन मस्क ने Neuralink नाम कि एक और कंपनी लॉन्च की है. और यह आपके मस्तिष्क को कंप्यूटर से जोड़ सकती है। द वॉल स्टीट जर्नल में एक रिपोर्ट के मुताबिक, सूत्रों ने कहा है। कि फर्म शुरुआती चरण में है। और यह उन उपकरणों को बनाने पर ध्यान केंद्रित करेगी जिन्हें मशीनों के साथ मर्ज करने के लिए मनुष्यों में प्लग किया जा सकता है। रिपोर्ट में कहा गया है।

कि Neuralink मस्क की ‘तंत्रिका फीता’ तकनीक का उपयोग करेगा जो आपके मस्तिष्क में इलेक्ट्रोड लगाएगा और आपके विचारों तक पहुंच जाएगा। ये नई मशीनें आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस की प्रगति में मदद करती हैं और साथ ही साथ उन तरीकों से नए रास्ते भी बनाती हैं जिनसे हम मशीनों के साथ बातचीत करते हैं।

हाल ही में, मस्क ने हमें न्यूरिलिंक के लॉन्च के संबंध में कई संकेत दिए हैं। यदि उनकी ट्वीट्स और भाषण कोई सबूत हैं, तो जैविक और डिजिटल खुफिया विलय करने के लिए उपकरण बहुत दूर नहीं हैं। उनकी तंत्रिका फीता प्रौद्योगिकी मनुष्यों और स्मृति के संदर्भ में मनुष्यों को भी सुधारने में मदद करेगी।

ऐसी तकनीक जहां मानव मस्तिष्क के अंदर इलेक्ट्रोड डालना पड़ता है, आज भी दुनिया में उपयोग किया जाता है, लेकिन यह ज्यादातर चिकित्सा उद्देश्यों के लिए है। ये विधियां बेहद खतरनाक हैं, क्योंकि मशीनों के साथ मानव मस्तिष्क पर काम करना बहुत मुश्किल है, और इसलिए इन्हें केवल चरम मामलों में उपयोग किया जाता है जहां वर्तमान विधियां समाप्त हो जाती हैं।

तो, क्या ऐसी तकनीक सीधे विज्ञान-फाई किताबों से बाहर आती है? बिजली की कारें तेजी से दुनिया भर में एक सनसनी बन रही हैं क्योंकि affordability, मंगल ग्रह पर मनुष्यों का विचार, और जीवाश्म ईंधन पर निर्भरता को कम करने वाली सौर ऊर्जा, मस्क की कंपनियां निश्चित रूप से मार्ग का नेतृत्व कर रही हैं।

डब्लूएसजे की रिपोर्ट के मुताबिक, न्यूरिलिंक ने कंपनी के कई अग्रणी शिक्षाविदों को नियुक्त किया है। लेकिन क्या आप अपने मस्तिष्क में माइक्रो-इम्प्लांट्स को कंप्यूटर सहायक पावरहाउस बनाने के लिए तैयार हैं !

इसे भी पढ़े –

गूगल आइकॉन क्या जाने

ब्लॉग्गिंग कैसे स्टार्ट करे विस्तार से जाने

Note – आज आपको एक छोटा सा नॉलेज Neuralink Future computer के बारे इम्पोर्टेन्ट बाते पता चली है ! अगर आपको यह पोस्ट अच्छा लगे तो आप इसे फेसबुक तथा व्हाट्सअप पर जरूर शेयर करे दी गई जानकारी में कुछ गलत लगे तो हमें तुरंत कमेंट या ईमेल में लिखे हम इसे अपडेट करते रहेंगे ! आप अपना फीडबैक हमें जरूर दे. और हमे subscribe� करना न भूले� Thanks for reading

थैंक्स फॉर रीडिंग

Roshan kumar

मै Famous people Biography in Hindi का फाउंडर हूँ ! यह एक एजुकेशन वेबसाइट है। जहाँ पर आप बायोग्राफी, सक्सेसफुल स्टोरी, बुक समरी, टेक्नोलॉजी से रिलेटेड आर्टिकल्स पढ़ सकते है !

You may also like...

1 Response

  1. you have a great blog here! would you like to make some invite posts on my blog?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *